समझनी है जिंदगी तो पीछे देखो, जीनी है जिंदगी तो आगे देखो…।
festival inner pages top

त्यौहार

Mauni Amavasya 2023: जानें कब मनाई जाएगी मौनी अमावस्या, क्या है इस दिन का महत्व व उपाय

Download PDF

माघ मास में स्नान-दान का बहुत अधिक महत्व बताया जाता है। हिन्दू पंचांग के अनुसार प्रत्येक माह में एक अमावस्या आती है। अमावस्या के दिन मुख्य रूप से पितरों के निमित्त कार्य किये जाते है। आइये जानते है, धार्मिक दृष्टिकोण से माघ मास में आने वाली इस अमावस्या का क्या महत्व है और साल 2023 में यह अमावस्या कब मनाई जाएगी।

Mauni Amavasya 2023: जानें कब मनाई जाएगी मौनी अमावस्या, क्या है इस दिन का महत्व व उपाय

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार अमावस्या की तिथि को बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। दैनिक पंचांग के अनुसार कृष्ण पक्ष की 15वीं तिथि को अमावस्या के नाम से जाना जाता है। वैसे तो सभी अमावस्या अपने आप में एक विशेष महत्व रखती है, लेकिन माघ मास में आने वाली अमावस्या का महत्व और भी अधिक माना जाता है। माघ मास में पड़ने वाली इसी अमावस्या को मौनी अमावस्या के नाम से जाना जाता है। आइये अब जानते है, 2023 में अमावस्या का यह व्रत कब रखा जाएगा-


Date of Mauni Amavasya 2023| कब मनाई जाएगी मौनी अमावस्या?

धार्मिक मान्यताओं के अनुसार अमावस्या की तिथि को बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। दैनिक पंचांग के अनुसार कृष्ण पक्ष की पंद्रहवी तिथि को अमावस्या के नाम से जाना जाता है। वैसे तो सभी अमावस्या अपने आप में एक विशेष महत्व रखती है, लेकिन माघ मास में आने वाली अमावस्या का महत्व और भी अधिक माना जाता है। माघ मास में पड़ने वाली इसी अमावस्या को मौनी अमावस्या के नाम से जाना जाता है। आइये अब जानते है, 2022 में इस अमावस्या का यह व्रत कब रखा जाएगा-


Date of Mauni Amavasya 2023| कब मनाई जाएगी मौनी अमावस्या?

मौनी अमावस्या का यह पर्व, 21 जनवरी 2023 के दिन मनाया जाएगा। 21 जनवरी की यह तिथि शनिवार के दिन पड़ेगी। इस दिन स्न्नान-दान का विशेष महत्व बताया जाता है। इस दिन लोग पवित्र गंगा नदी में स्नान करते है और सभी पापों से मुक्त हो जाते है। मौनी अमावस्या के दिन दान एवं स्नान का समय इस प्रकार से है-


Mauni Amavasya 2023 Shubh Muhurat| मौनी अमावस्या 2023 शुभ मुहूर्त

माघ मास अमावस्या तिथि शनिवार, 21 जनवरी 2023
अमावस्या तिथि प्रांरभ समय 21 जनवरी 2023, सुबह 06:17 से
अमावस्या तिथि समापन समय 22 जनवरी 2023,सुबह 02:22 तक
स्नान-दान का शुभ मुहूर्त 21 जनवरी 2023, सुबह 08:34 से 09:53 तक

Significance of Mauni Amavashya| मौनी अमावस्या का महत्व

• इस दिन गंगा-स्नान करने से सभी प्रकार के दोषों से मुक्ति मिल जाती है।

• इस अमावस्या के दिन पितरों के निमित्त पूजा करना भी महत्वपूर्ण माना जाता है।

• मौनी अमावस्या के दिन ज़रूरतमंदो को दान करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है।

• ऐसा माना जाता है कि इस दिन तर्पण आदि करने से पितरों की आत्मा को शांति मिलती है।

• मौनी अमावस्या को मौन रहने का विशेष महत्व बताया जाता है। कहा जाता है, जो भी व्यक्ति इस दिन मौन रहकर अपने आराधय का पूजन करता है, उनकी सभी मनोकामना जल्दी पूर्ण होती है।


Remedies for Mauni Amavasya| मौनी अमावस्या के उपाय

इस दिन पीपल के पेड़ नीचे सरसों के तेल का दीया प्रज्वल्लित करें। इसके साथ ही मौनी अमावस्या के दिन आप गरीब लोगों में काले रंग की वस्तुएं, जैसे काले रंग के कपड़े, जूते, काले तिल से बनी वस्तुएं दान कर सकते है। इसके साथ ही यदि आप इस दिन पुरे समय मौन व्रत रखते है तो यह आपके लिए बहुत ही कल्याणकारक साबित होगा।

डाउनलोड ऐप